बसंत का मौसम Basant ka mausam kab aata hai | spring season in hindi

बसंत का मौसम

हमारे देश भारत में कई सारी  ऋतु होती हैं जिनका अलग अलग महत्व होता है|  हर बार जब कोई नई ऋतु आती ,तो मन में उत्साह और उमंग हो जाता है क्योंकि नई ऋतु के आने से  कहीं ना कहीं माहौल परिवर्तन होता है और हमें नई ऊर्जा मिलती है|  जैसे ही मौसम ( mousam बदलता ,तो कई प्रकार के बदलाव महसूस किए जाते हैं जो हमारे आंतरिक रूप को भी सही बनाते हैं और जिससे किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती है लेकिन हमें हर रितु और हर मौसम का मजा  अनिवार्य रूप से लेना चाहिए|  प्रकृति के  इस  नायाब  तोहफे  को  सहेज  कर रखना होगा|  आज हम जिस मौसम ( mousam की बात कर रहे हैं, वह है बसंत का मौसम ( spring season

 अगर आपको इस मौसम ( mousam के बारे में पूरी जानकारी नहीं है, तो हम आपको पूरी जानकारी देंगे|

बसंत मौसम ( mousam का आगमन 

सामान्य तौर पर भारतवर्ष में छह ऋतु  या छह मौसम ( mousam का आगमन होता है जिसमें बसंत  का मौसम ( mousam मुख्य रूप से महत्व रखता है|  यह फरवरी से लेकर अप्रैल तक हमारे साथ होती है और प्राकृतिक रंगों को भी  बिखेरती है|  ऐसा माना गया है कि माघ महीने की शुक्ल पक्ष पंचमी से बसंत ऋतु का आगमन  हो जाता है| अगर आप हिंदू पंचांग की बात करेंगे तो वहां पर बसंत ( Basant प्रारंभिक मौसम ( mousam में से होता है जिसके आने पर पत्तियां झड़ने लगती हैं और मौसम ( mousam बहुत अच्छा हो जाता है साथ ही साथ आम और सरसों के पेड़ों पर फूल आने लगते हैं| 

बसंत के मौसम ( mousam की विशेषता 

mousam | spring season in hindi

जब भी बसंत का मौसम ( mousam आता है, तो  आपने गौर किया होगा चारों तरफ खुशनुमा माहौल हो जाता है| इसी समय नए-नए फूल खिलते हैं और पौधे हरे भरे होने लग जाते हैं साथ ही साथ  बर्फ का पिघलना भी इसी मौसम ( mousam में शुरू होता है| पेड़ पौधों पर नए नए पत्ते होने लगते हैं और कई प्रकार के लोग उद्यानों और बगीचों में घूमने का प्लान बनाते हैं| साथ ही साथ इस समय लोग पिकनिक भी  जाते हैं और खुद का मनोरंजन भी करते हैं|  Also Read .

corn flour hindi
interior design kya hota hai
Hindi positive thought
जामुन के फायदे और नुकसान

बसंत के मौसम mousam से संबंधित पौराणिक कथा | spring season in hindi

जब भी आप किसी प्राकृतिक  चित्रण का वर्णन करते हैं, तो कहीं ना कहीं आपको पौराणिक कथा मिल जाती है जो आपको उस चित्रण से संबंधित जानकारी देती है और यह पौराणिक कथा पुराने लोगों या पुरानी पुस्तकों के माध्यम से प्राप्त होती हैं|  ऐसा माना जाता है कि बसंत,  कामदेव के पुत्र थे| जब कामदेव के घर पुत्र के जन्म की खबर मिलती है, तो उस समय सौंदर्य अपनी चरम सीमा में आ जाता है और इस खुशखबरी  का समाचार पाते ही प्रकृति झूम उठती है साथ ही साथ में फूल खिल जाते हैं और कोयल नए-नए लुभावने गीत सुनाने लगती है| भगवान कृष्ण ने भी खुद को बसंत का  रूप  कहा है जिसे गीता में वर्णित किया गया है|

बसंत के मौसम ( mousam में मनाए जाने वाले मुख्य त्यौहार

भारतवर्ष में हर मौसम mousam का विशेष महत्व है जहां पर कई प्रकार के त्योहार पूरे उल्लास के साथ मनाया जाता है|  ऐसे में बसंत  के मौसम mousam में बसंत पंचमी, महाशिवरात्रि और होली का त्यौहार मनाया जाता है जिसे इतिहास में भी महत्वपूर्ण स्थान दिया गया है|  साथ ही साथ होली के शुभ अवसर पर  एक विशेष  राग   गाया  जाता है, जिसे बसंत राग कहा जाता है|

महादेवी वर्मा द्वारा गाया गया बसंत के लिए विशेष गीत | spring season in hindi

मै  ऋतु में   प्यारा  बसंत

मैं अग  जग  का प्यारा  बसंत

मेरी पग  ध्वनि सुन जग जागा

कड़ कड़ ने छवि  मधुरस मांगा

नवजीवन का संगीत बहा

पुलको से भर  आया  दिनगत

 मेरी सपनों की निधि अनंत

 मैं  ऋतु  मे  न्यारा  बसंत

 खूबसूरत पंक्तियों में महादेवी वर्मा ने जब वसंत ऋतु के ऊपर कविता लिखी, तब उन्होंने भी इस ऋतु के खूबसूरत चरित्र चित्रण का  उल्लेख किया  होगा, जब नए-नए फूलों पर मधुमक्खियां मंडराती हो और इस मौसम में नए-नए बदलाव देखे जा रहे हैं| ऐसा भी माना जाता है कि इस ऋतु में प्रकृति अपना श्रृंगार करती है और इसी वजह से इसे  श्रृंगार  की ऋतु भी कहा जाता है| आपने भी महसूस किया होगा  बसंत  ऋतु में कई सारे परिवर्तन होते हैं और जिस से मन में उल्लास पैदा होता है| 

बसंत के मौसम mousam को माना जाता है, ऋतु का राजा

प्राचीन समय से ही बसंत के मौसम को ऋतुका राजा कहा जाता है क्योंकि  अन्य मौसम के मुकाबले इस मौसम में  प्रकृति  कहीं ज्यादा खूबसूरत और शानदार दिखाई देती है साथ ही साथ इस मौसम में फसलें भी बहुत अच्छी तरह आती नजर आती हैं और  पक कर  भी तैयार हो जाती हैं| भगवान कृष्ण ने वसंत ऋतु का बखान  गीता में  किया है और  सभी मौसम में इसे सर्वश्रेष्ठ माना है|

बसंत के मौसम mousam में विभिन्न रंगों का विवरण | spring season in hindi

बसंत का मौसम, ऐसा मौसम है जब हमें कई सारे  रंग  एक साथ नजर आते हैं और उस समय हमें रंगों का महत्व पता चलता है|  बसंत के मौसम में हरा रंग  पेड़ पौधे मैं दिखाई देता है,  जो हमें बहुत ही प्यारे प्रतीत होते हैं| साथ ही साथ पीला और लाल रंग भी अधिकता से फूलों के माध्यम से नजर आता है और चारों ओर  प्रकृति को  खूबसूरत  बनाता है|  बसंत के मौसम में हमें हर रंग बहुत ही खूबसूरत लगता है क्योंकि उस समय हमारा मन भी बहुत  प्रफुल्लित  होता है| इसीलिए बसंत के मौसम को फूलों का मौसम भी कहा जाता है|

बसंत के मौसम mousam में मुख्य रूप से खिलने वाले फूल

mousam | spring season in hindi | बसंत का मौसम

बसंत के मौसम में कई सारे फूल खिलते हैं जो हमारे मन को काफी हद तक लुभाते हैं|  इनमें कुछ फूलों के नाम मुख्य हैं

1]  क्रोकस फूल—  यह बैंगनी रंग का फूल मन को आकर्षित करता है साथ ही साथ केसर  इसी फुल  से निकाला जाता है|  इसे पहाड़ी इलाकों में पाया जाता है, जो दिखने में  प्यारे लगते हैं|

2]  डैफोडिल फूल —  यह बसंत के मौसम में मिलने वाला मुख्य फूल है जिसमें 6 पत्तियां होती हैं जो प्राया सफेद, पीले और नारंगी रंग में पाई जाती हैं|  पूरे विश्व में इसकी कई सारी प्रजातियां अलग-अलग जगहों पर देखी गई हैं|

3]   कमेलिया  फूल– इस  फूल का पौधा थोड़ा लंबा वाला होता है|  इसमें फूल  बड़े आकार के होते हैं और पत्तियों पांच से सात होती हैं|  यह फूल मुख्य रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में दिखाई देते हैं|

4]  ट्यूलिप फूल —  दूर से देखने पर यह गुलाब की तरह नजर आते हैं, जो बसंत ऋतु में खिलने वाला बहुत ही प्रसिद्ध फूल है|  इसे खिलने  के लिए पर्याप्त धूप की आवश्यकता होती है, और ज्यादा गर्मी को बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं|

5]   फ्लावरइन करंट फूल —  यह मुख्य रूप से गुलाबी रंग के होते हैं जिसकी पत्तियां 2 से 7 सेंटीमीटर लंबी होती हैं इसमें फल भी लगते हैं जो  बेर  की तरह दिखाई देते हैं|  यह भी दिखने में बहुत ही खूबसूरत नजर आते हैं|

6]   स्टार  मंगोलिया —  यह एक पेड़ की तरह होते हैं,  जिस में सफेद रंग के फूल नजर आते हैं बसंत के मौसम में यह सबसे ज्यादा खिलते  हैं और खूबसूरत लगते हैं|  

7]  रोडो टैनड्रोन— यह फूल गहरे रंग के होते हैं,  जो पहाड़ी जगहों पर दिखाई देते हैं पूरी दुनिया में इसकी 900 से ज्यादा प्रजातियां हैं इनका आकार लगभग 30 मीटर तक होता है, जो गुलाबी रंग में दिखाई देते हैं और बसंत के मौसम को  खूबसूरत बनाते हैं|

अंतिम शब्द

इस प्रकार से हमने आज जाना कि बसंत का मौसम  सभी  मौसम mousam में सबसे खुशनुमा माना जाता है क्योंकि हमें प्रकृति के नए नए परिवर्तन देखने को मिलते हैं, जो हमारे हृदय को भी बहुत ही अच्छे लगते हैं|  किसी कारणवश मन खराब होने पर प्रकृति के माध्यम से हम खुद का मन  सही  कर सकते हैं और सकारात्मक उर्जा भी प्राप्त कर सकते हैं|  इसीलिए खुलकर हमें बसंत के मौसम का मजा लेना चाहिए और वह भी बिना किसी हिचक के|

 उम्मीद करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आएगा  और इसे  अंत तक  पढ़ने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद| 

Related posts

जलियांवाला बाग हत्याकांड पर निबंध | jallianwala bagh hatyakand information
जलियांवाला बाग की कहानी jallianwala bagh इतिहास के पन्नों में कुछ ऐसे किस्से दर्ज हैं जिन्हें सुनकर आज भी रोंगटे खड़े हो जाते हैं और  ...
शिरडी साईं बाबा | साईं बाबा का इतिहास | sai baba hindi
साईं बाबा का इतिहास ,  संपूर्ण जानकारी आज के समय में लोगों की मान्यताएं कई  हद तक आगे बढ़ती नजर आती हैं जहां लोग अपना ...
about trees in hindi: वृक्षों के बारे में संपूर्ण जानकारी Importance of trees
वृक्षों trees के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रकृति ने हमें कुछ ऐसे तोहफे दिए हैं, जिनका उपयोग हम ताउम्र कर सकते हैं और जिनकी वजह ...
Harishankar Parsai | श्री हरिशंकर परसाई का जीवन परिचय
श्री  हरिशंकर परसाई का जीवन परिचय हमारी भारतीय संस्कृति में कई सारे ऐसे  विद्वान आए हैं जिन्होंने  खुद की परवाह न करते हुए भारतीय संस्कृति ...
ok ka full form kya hai | ओके का पूरा नाम क्या है?
ok ka full form in hindi,  संपूर्ण  जानकारी   हम अपनी बोलचाल की भाषा में कई सारे ऐसे शब्दों का इस्तेमाल करते हैं जिसके बाद हमें ...

Leave a Comment

error: Content is protected !!