Hindi Diwas: हिंदी दिवस कब मनाया जाता है और क्यों

hindi diwas का मुख्य विवरण

विश्व में प्रत्येक देश की एक मुख्य भाषा होती है जिससे वहां के लोगों के द्वारा बोला और समझा जाता है|  इसी  तरह भारत की भी एक मुख्य राष्ट्रभाषा है जिसमें भारत के अधिकतर लोग उपयोग करते हैं और वह है हिंदी hindi भाषा|  इस भाषा के माध्यम से एक राज्य के लोग दूसरे राज्य  के लोगों  से बात करते हैं और अपनी संवेदनाओं को व्यक्त करते हैं|  हिंदी hindi भाषा लोगों के बीच में प्यार का संकेत माना जाता है जिससे लोग एक दूसरे के साथ जुड़ाव महसूस करते हैं और  उन्हें अपनी भाषा से प्यार भी है|

कब मनाया जाता है हिंदी दिवस : hindi diwas

hindi diwas

भारत वासियों के लिए हिंदी दिवस (hindi diwas मनाना एक गर्व की बात है क्योंकि  इसके माध्यम से हम हिंदी hindi को पूरे विश्व के सामने और भी ज्यादा मजबूती प्रदान करते हैं। प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस ( Hindi Diwas मनाया जाता है ताकि लोगों को ज्यादा से ज्यादा अपनी भाषा के प्रति सम्मान और विश्वास हो सके|  वैसे तो हर दिन हिंदी का है लेकिन  14 सितंबर को हिंदी दिवस ( hindi diwas के रूप में मनाना एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है|

हिंदी hindi के ऊपर हैं कई सारी वेबसाइट  : hindi diwas

प्राचीन काल से ही हिंदी hindi भाषा को बहुत ही महत्व दिया गया है और धीरे-धीरे इसका महत्व और भी बढ़ता चला जा रहा है। आज के समय में कई सारी वेबसाइट आप हिंदी hindi भाषा की देखते हैं, जहां आप हिंदी hindi में ही सारी खबरों का आकलन कर सकते हैं जिसमें मुख्य रुप से राजनीति, फिल्में, खेल, सामाजिक परिवेश,शौक,   परंपरा के बारे में जानकारी दी जाती हैं,  ताकि कोई भी हिंदी hindi भाषा किसी भी प्रकार की जानकारी से अधूरा ना रह सके|   आपको हिंदी hindi में कई प्रकार के भाषण, निबंध, स्लोगन भी देखने को मिल जाते हैं जिनसे आप अपने किसी प्रोजेक्ट के लिए भी मदद ले सकते हैं|

हिंदी hindi से संबंधित बेहतरीन कोटस : hindi diwas Quetes

हमारे पुराने साहित्यकारों और लेखकों ने भी हिंदी hindi को आगे बढ़ाने का काम किया है जिससे हिंदी hindi की पहचान पूरे विश्व में हो सके| कुछ ऐसे साहित्यकार भी हैं जिन्होंने हिंदी hindi को बहुत ही सरल रूप में बताते हुए अपने विभिन्न वोट दिए हैं, जो निम्न है

1]  हिंदी hindi ह्रदय की भाषा है,  जिसकी वजह से हमारे शब्द हृदय से निकलते हैं और हृदय तक पहुंच जाते हैं|

2]  हिंदी hindi भारत की राष्ट्रभाषा है और यदि भारत के लिए मातृभाषा का नाम लेने  को  कहा जाए तो वह निश्चित रूप से हिंदी होगी| 

3]  कोई  राष्ट्र  अपनी भाषा को छोड़कर राष्ट्र नहीं कहला सकता भारत की  भाषा की  रक्षा सीमाओं की रक्षा से भी जरूरी है|

4]  हिंदी hindi का प्रश्न स्वराज का प्रश्न है|

5]  जिस देश को अपनी भाषा और साहित्य  के  गौरव का अनुभव नहीं  है, वह कभी भी उन्नत नहीं हो सकता|

6]  जो सम्मान, संस्कृति और अपनापन हिंदी बोलने से आता है  वह  अंग्रेजी में दूर-दूर तक दिखाई नहीं देता है|

7]  हिंदी hindi पढ़ना और पढ़ाना हमारा कर्तव्य है, उसे हम सब को अपनाना चाहिए|

8]  परदेसी वस्तु और परदेसी भाषा का भरोसा मत रखो, अपने में, अपनी भाषा में उन्नति करते रहो|

9]  हिंदी hindi के द्वारा सारे भारत को एक सूत्र में पिरोया जा सकता है|

10]  हिंदी hindi सरलता, बोधगम्यता से विश्व की भाषाओं में महानतम स्थान रखती है|

11]  हिंदी hindi की  एक निश्चित धारा है,  निश्चित संस्कार नहीं|

12]  यदि सभी भारतीय भाषाओं के लिए कोई लिपि  आवश्यक है, तो वह देवनागरी ही हो सकती है|

13]  हिंदी hindi को राष्ट्रभाषा बनाना भाषा का प्रश्न नहीं अपितु देश अभिमान का प्रश्न है|

14]  हिंदी hindi उन सभी गुणों से अलंकृत है, जिनके बल पर वह विश्व की साहित्यिक भाषा की अगली पीढ़ी में  समासीन हो सकती है|

15]  राष्ट्रभाषा के बिना राष्ट्र गूंगा है|

16]   हम  दुनिया की सभी भाषाओं की इज्जत  करते हैं, पर  हमारे  देश में हिंदी hindi की इज्जत ना हो  यह हम  सहन नहीं कर  सकते हैं|

17]  हिंदी hindi एक प्रदेश की भाषा नहीं बल्कि देश में सर्वत्र बोली जाने वाली भाषा है|

18]  जो भी यदि अपनी मातृभाषा का सम्मान नहीं करेगा तो उसका पतन निश्चित है|

19] जब तक इस देश का  कामकाज   अपनी भाषा हिंदी hindi में नहीं चलता, तब तक हम यह नहीं कह सकते इस देश में स्वराज्य है|

20]  हिंदी hindi हमारे राष्ट्र की अभिव्यक्ति का सरलतम स्रोत है|

हिंदी दिवस पर आधारित कुछ मुख्य स्लोगन : hindi diwas thought

1] 14 सितंबर की करो तैयारी,  देश में हिंदी दिवस hindi diwas का त्यौहार बनेगा अब की बारी|

2]  देखो 14 सितंबर का दिन आया है, हिंदी दिवस का दिन आया है|

3]  हिंदी दिवस hindi diwas पर हम ने ठाना है,  लोगों में हिंदी का स्वाभिमान जगाना है|

4]  हिंदी देश की भाषा है,  हर भारतवासी की अभिलाषा है|

5]  देश को एकता में बांधती है हिंदी, अनगिनत लोगों को  साधती है हिंदी

6]  हिंदी hindi है भारत का अभिमान,  दक्षिण  हो या पश्चिम  सभी करो मिलकर इसका सम्मान|

7]  देश को हिंदुस्तान के नाम से जाना जाता है,  भारत   की भाषा को हिंदी hindi के रूप में पहचाना जाता है|

8]  पूरब पश्चिम का भेद दूर करो, हिंदी hindi को अपनाकर सब एक बनो|

9]  देश में एकता भाईचारा बढ़ाओ,   सब मिलकर हिंदी को अपनाओ|

10]  हिंदी सिर्फ देश के आम जन की भाषा ही नहीं है,  यह उनके विचारों को व्यक्त करने का जरिया भी है|

11]  हिंदी hindi का सम्मान देश का सम्मान है, हमारी स्वतंत्रता वहां है हमारी राष्ट्रभाषा जहां हैं|

12]  जैसे रंगों के मिलने से खेलता है  बसंत,  वैसे भाषाओं की मिश्री सी बोली है हिंदी|

13]  हिंदी hindi पढ़ें,  हिंदी hindi पढ़ाए,,   मातृभाषा की सेवा कर देश को महान बनाएं|

14]  हिंदी hindi में बात है क्योंकि हिंदी में जज्बात है|

15]  देश की यह  शान है, हिंदी से हिंदुस्तान है|

16]  चलो मिलकर मुहिम चलाएं,  आज हिंदी को अपनाएं.

17]   हिंदी की निश्चित धारा है,  निश्चित संस्कार है|

18]   गर्व  हमें है हिंदी पर,  शान हमारी हिंदी है|  कहते सुनते हिंदी, हम पहचान हमारी हिंदी है|

19]  बिछड़ जाएंगे अपने हमसे,  अगर अंग्रेजी टिक जाएगी मिट जाएगा वजूद हमारा अगर हिंदी मिट जाएगी|

20]   अंग्रेजी का  कब तक  करोगे  गुड़गान,  हिंदी भाषा को भी दो बराबर का सम्मान|

हिंदी भाषा की मुख्य शायरियां : hindi diwas poem

1]    होठ खामोश थे,सिसकियां  कह गई द्वार बंद थी खिड़कियां कह गई|कुछ हमने कहा कुछ हिंदी कह गई,जो न कह पाए वह हिचकियां कह गई| 

2]  वक्ता की ताकत भाषा,लेखक का अभिमान है भाषा भाषाओं के रथ  पर बैठी मेरी प्यारी हिंदी भाषा|

3]   आज  स्याही से लिख दो तुम अपनी पहचान, हिंदी हो तुम, हिंदी से सीखो करना प्यार|

4]   हिंदी और हिंदुस्तान हमारा है और हम इसकी शान हैं,दिल हमारा एक है और एक हमारे जान हैं|

5]  जबकि हर सांस मेरी तेरी वजह से है मां,फिर तेरे नाम का दिन एक मुकर्रर क्यों है?

6]     बिछड़ जाएंगे अपने हमसे,  अगर अंग्रेजी टिक जाएगी मिट जाएगा वजूद हमारा,  अगर हिंदी मिट जाएगी|

7]    संस्कृत की लाडली बेटी है हिंदी बहनों को साथ लेकर चलती है यह हिंदी सुंदर है, मनोरम है,  मीठी  है सरल है,ओजस्विनी है और  अनूठी है  यह हिंदी|

8]  हिंदी में बसी है मेरी जिंदगी उम्र भर करते रहेंगे तेरी बंदगी|

हिंदी hindi भाषा के कुछ मुख्य लेखक 

हिंदी भाषा को आगे लाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण लेखकों ने अपना सहयोग दिया जिसके माध्यम से उन्होंने समाज के सामने एक नई छवि हिंदी की प्रस्तुति दी है,  जिसे  लोगों ने इसे सर आंखों पर बिठाया|  आज हम आपको उन मुख्य लेखकों के बारे में बताएंगे जिन्होंने आगे बढ़कर हिंदी को महत्वपूर्ण स्थान दिलवाया| 

अंतिम शब्द

इस प्रकार से हमने जाना कि हिंदी भाषा हमारी महत्वपूर्ण भाषा है और आज तक हिंदी भाषा के लिए कई लोगों ने महत्वपूर्ण कार्य किए हैं, जिसके माध्यम से हिंदी को आगे बढ़ाया जा सके|  हमें भी कोशिश  करनी चाहिए कि हिंदी के माध्यम से लोगों को जागृत किया जाए और उन्हें हिंदी के महत्व को बताया जा सके ताकि  हिंदी किसी से पीछे ना रहे|

 उम्मीद करते हैं आपको हमारा  यह लेख पसंद   आएगा|  धन्यवाद जय हिंद 

Leave a Comment

error: Content is protected !!