[जानें] होली के त्यौहार पर 10 रोचक वाक्य – [Amazing] 10 Lines on Holi in Hindi & English

[जानें] होली के त्यौहार पर 10 रोचक वाक्य – [Amazing] 10 Lines on Holi in Hindi & English:- होली रंगों का त्यौहार है। इस त्यौहार को सम्पूर्ण विश्व एक साथ मनाता है। मुख्य रूप से होली का त्यौहार भारत में मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने सभी गिले-शिकवे भूलकर एक दूसरे को रंग लगाते है और गले मिलते है।

होली का यह पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। इस दिन सभी घरों में अनेक प्रकार की मिठाइयाँ व पकवान बनाये जाते है। होली का यह पर्व सभी धर्मों के लोग बड़ी धूमधाम से एक साथ मनाते है। होली के पावन पर्व के अवसर पर विद्यालयों में अनेक प्रकार की प्रतियोगिताओं का आयोजन होता है।

जहां पर अध्यापक अपने विद्यार्थियों को अनेक प्रकार के कुछ कार्य देते है। विद्यार्थियों को प्रतियोगिता में विजय प्राप्त करने के लिए उन कार्यों को पूरा करना होता है। मान लीजिये कि अध्यापक ने आपको होली पर 10 वाक्य (10 Lines on Holi in Hindi) लिखने के लिए दिया है।

फिर आप क्या करेंगे? आपको होली के त्यौहार के बारे में पता तो सब कुछ है। लेकिन आप लिखने में किसी कारण से असमर्थ है। तो इस स्थिति में आपको चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है। क्योंकि, इस लेख में हम आपके लिए ‘होली के त्यौहार पर 10 वाक्य(10 Lines on Holi in Hindi) लेकर आये है।

जिन्हें आप बड़ी ही आसानी से लिखकर अपने अध्यापक को दे सकते है और प्रतियोगिता भी जीत सकते है। होली पर 10 वाक्य आपको नीचे प्राप्त होंगे। तो चलिए शुरू करते है:- 10 Lines on Holi Festival in Hindi

होली पर 10 वाक्य (10 Lines on Holi in Hindi)

1. होली रंगों का त्यौहार है। प्रत्येक वर्ष होली का पावन पर्व वसंत ऋतु में ही मनाया जाता है। भारतीय कैलेंडर के अनुसार, होली का यह पर्व फागुन माह में मनाया जाता है। होली, भारत के सभी त्योहारों में सबसे प्रमुख त्यौहार है।
2. होली के पावन पर्व पर लोग अपने घरों में भिन्न-भिन्न प्रकार के पकवान और मिठाइयां बनाते है। होली का सबसे प्रसिद्द पकवान ‘गुजिया’ है। 
3. होली २ दिनों का त्यौहार है। होली के दिन ‘होलिका दहन’ किया जाता है और दूसरे दिन धुलंडी को रंगों के साथ खेला जाता है। 
4. भारत में मथुरा वृन्दावन नामक स्थान पर रंगों की होली खेलने की अलग ही प्रथा है। यह सम्पूर्ण विश्व में प्रचलित है। इस दिन पुरुष पहले महिलाओं पर रंग डालते है और महिलाएं पुरुषों को डंडे से मारती है। होली खेलने की ऐसी प्रथा को देखने के लिये वहां भारत के कई स्थानों से लोग दूर-दूर से आते है। 
5. होली के इस पावन पर्व पर सभी लोग सारे गिले-शिकवे भूल कर एक दूसरे को प्यार से गले लगाते है और रंगों के साथ एक नयी मित्रता की शुरुआत करते है। इस दिन चारों तरफ आसमान में ख़ुशी ही ख़ुशी के रंग नज़र आते है। 
6. कुछ लोग होली के इस पावन पर्व के दिन नशीले पदार्थों का सेवन कर इस त्योहार की परंपरा व पावनता को भंग करते हैं। जो कि पूर्णतया अनुचित तथा गलत है। 
7. होली का पर्व मनाने के पीछे मुख्य कारण यह है कि इस दिन भगवान विष्णुजी के परम भक्त प्रहलाद अग्नि में से जीवित वापिस आ गए थे। इसीलिए होली के इस पर्व को बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है। 
8. होली का त्यौहार एकमात्र ऐसा पर्व है, जो कि भारत के अलावा सम्पूर्ण विश्व में बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है। यह त्यौहार भारत का सबसे प्रसिद्द त्यौहार है। 
9. होली का त्यौहार पूरी तरह विभिन्नताओं से भरा हुआ है। इसीलिए इस त्यौहार को भिन्न-भिन्न स्थानों पर अलग प्रकार से मनाया जाता है।
10. होली का त्यौहार मनाने के पीछे एक बहुत ही प्रसिद्द कहानी है। कहानी के अनुसार, एक प्रहलाद था। उसके पिता को भगवान विष्णु पसंद नहीं थे और प्रहलाद विष्णु जी का परम भक्त था। वह भगवन विष्णु की पूजा-अर्चना किया करता था। प्रहलाद की एक बुआ थी। उसका नाम होलिका था। होलिका को वरदान प्राप्त था कि वह किसी भी प्रकार की अग्नि में जल नहीं सकती। इसीलिए प्रहलाद के पिता ने, होलिका जो कि प्रहलाद की बुआ थी, उनके साथ प्रहलाद को जलती हुई अग्नि में बैठा दिया था। अग्नि में बैठकर प्रहलाद, विष्णु जी की भक्ति में लीन हो गया और अंत में होलिका जल गयी और प्रहलाद अग्नि से बाहर निकल आये। तब प्रहलाद के पिता को आश्चर्य हुआ यह क्या हुआ तब आकाशवाणी हुई कि वरदान में वरदान का दुरूपयोग न करने की बात कही गयी थी। सारी प्रजा प्रहलाद को देखकर खुश हो गयी और इसी ख़ुशी में फिर धूम धाम से होली रंगों से खेली गयी। तब से होली का पर्व हर वर्ष बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है।

10 Lines on Holi in English

1. Holi is a festival of colors. Holi festival of Holi is celebrated every year in the spring. According to the Indian calendar, this festival of Holi is celebrated in the month of Phagun. Holi is the most prominent of all festivals in India.
2. People make different types of dishes and sweets in their homes on the holy festival of Holi. The most famous dish of Holi is ‘Gujiya’.
3. Holi is a 2-day festival. Holi Dahan is performed on Holi and Dhulandi is played with colors on the second day.
4. There is a different practice of playing Holi of colors in a place called Mathura Vrindavan in India. It is popular all over the world. On this day, men first put color on women and women beat men with sticks. To see such practice of playing Holi, people come from far and wide places in India.
5. On this auspicious festival of Holi, everyone forgets all the gags and embraces each other with love and starts a new friendship with colors. On this day, happiness colors are seen in the sky all around.
6. Some people break the tradition and sanctity of this festival by consuming drugs on this holy day of Holi. Which is completely unfair and wrong.
7. The main reason behind celebrating the Holi festival is that Prahlad, the supreme devotee of Lord Vishnu, came back alive from the fire. That is why this festival of Holi is celebrated as a symbol of the victory of good over evil.
8. Holi festival is the only festival which is celebrated with great pomp in the whole world except India. This festival is the most famous festival in India.
9. Holi festival is full of variety. That is why this festival is celebrated differently in different places.
10. There is a very famous story behind celebrating the Holi festival. According to the story, there was a Prahlad. His father did not like Lord Vishnu and Prahlad was an ardent devotee of Vishnu. He used to worship Lord Vishnu. Prahlad had an aunt. His name was Holika. Holika had the boon that she could not burn in any kind of fire. That’s why Prahlad’s father, Holika, who was Prahlad’s aunt, had Prahlad sitting with him in a burning fire. Prahlad sat in the fire and got absorbed in the devotion of Vishnu and finally Holika was burnt and Prahlad came out of the fire. Then Prahlad’s father wondered what happened, then there was a voice from Akash that there was talk of not abusing the boon. The whole people were happy to see Prahlad and in this happiness again Holi was played with great pomp. Since then the festival of Holi is celebrated with great pomp every year.

Most Popular Search Terms Related 10 Lines on Holi Festival

10 Lines on Holi Festival in English For Class 110 Lines on Holi Festival in English For Class 2
10 Lines on Holi Festival in Hindi10 Lines on Holi Festival in English
10 Lines on Holi10 Lines on Holi in Hindi
10 Lines on Holi Festival in English For Class 410 Lines on Holi Festival in English For Class 5
10 Lines on Holi Festival10 Lines on Holi Festival in English For Class 6
Essay on Holi 10 Lines10 Easy Lines on Holi
10 Lines on Holi Festival in English For Class 1010 Lines on Holi Festival in English For Class 12
10 Lines on Holi Festival in English For Class 310 Lines on Holi in Hindi & English

अन्य लेख, इन्हें भी पढ़े:-

23+ Amazing Slogans in Hindi (हिंदी नारें)

गाँधी जयंती पर कविता | 11+ Amazing Gandhi Jayanti Poem in Hindi

विश्व धर्म सम्मेलन, शिकागो में स्वामी विवेकानंद का भाषण

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध

अंतिम शब्द (Conclusion)

अंत में आप सभी से सिर्फ इतना कहना चाहता हूँ कि अगर आपको हमारा यह होली के त्यौहार पर 10 रोचक वाक्य (10 Lines on Holi in Hindi) लेख पसंद आया है तो इसको अपने मित्रों के साथ फेसबुक, व्हाट्सएप्प, इंस्टाग्राम पर जरूर साझा करें। इससे वे सभी भी इस महत्वपूर्ण जानकारी का लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

इस होली के त्यौहार पर 10 रोचक वाक्य  (10 Lines on Holi in Hindi & English) लेख को पूरा पढ़ने के पश्चात अगर आपके आपके मन में किसी भी प्रकार का प्रश्न उठ रहा है, तो आप हमें कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है।

हम आपके प्रत्येक प्रश्न का उत्तर जल्द से जल्द देंगे। अगर आपको आगे भी ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करनी है, तो आप हमारें इस ब्लॉग को follow कर सकते है। हम रोज़ाना नई-नई महत्वपूर्ण व रोचक जानकारियां आपके लिए लेकर आते रहते है।

धन्यवाद।

Leave a Comment